पहली पुण्यतिथि पर याद किए गए दादा निर्मल कुमार केसवानी, गृहमंत्री सहित कई समाज सेवियों ने दी भावभीनी श्रद्धांजलि

राजधानी के वरिष्ठ समाजसेवी दादा निर्मल कुमार केसवानी की प्रथम पुण्यतिथि पर मंगलवार शाम खटलापुर स्थित श्रीराम मंदिर में सुंदरकांड पाठ का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में मप्र शासन के कई मंत्रियों और समाजसेवियों ने श्रीराम मंदिर पहुंचकर दादा निर्मल केसवानी को भावभीनी श्रद्धांजलि दी।

पहली पुण्यतिथि पर याद किए गए दादा निर्मल कुमार केसवानी, गृहमंत्री सहित कई समाज सेवियों ने दी भावभीनी श्रद्धांजलि

राजधानी के वरिष्ठ समाजसेवी दादा निर्मल कुमार केसवानी की प्रथम पुण्यतिथि पर मंगलवार शाम खटलापुर (Khatlapura) स्थित श्रीराम मंदिर (Shri Ram Mandir) में सुंदरकांड पाठ का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में मप्र शासन के कई मंत्रियों और समाजसेवियों ने श्रीराम मंदिर पहुंचकर दादा निर्मल केसवानी को भावभीनी श्रद्धांजलि दी। इस अवसर पर भाजपा प्रदेश प्रवक्ता दुर्गेश केसवानी (BJP SpokesMan Durgesh Keswani) और व्यवसायी धीरज केसवानी (Dheeraj Keswani) अपने पिता को याद कर भावुक हुए। 

श्रद्धांजलि सभा में मप्र के गृहमंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा (Dr. Narottam Mishra), चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग (Vishwas Sarang) और कृषि मंत्री कमल पटेल (Kamal Patel) ने दादा निर्मल केसवानी को याद कर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की। साथ ही पूर्व जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा (PC Sharma), पूर्व मंत्री सुरेंद्र पटवा (Surendra Patwa), सुसनेर विधायक राणा विक्रम सिंह (Rana Vikram Singh),  भाजपा महामंत्री भगवान दास सबनानी (Bhagwandas Sabnani) ने भी दादा को श्रद्धासुमन अर्पित किए। वहीं भाजपा और कांग्रेस के कई नेताओं ने भी अपनी उपस्थिति कार्यक्रम में दर्ज करवाई। इस मौके पर राजधानी के कई वरिष्ठ पत्रकार भी उपस्थित थे। 

सुंदरकांड पाठ के साथ साथ मछलियों को खिलाया चारा : 
कार्यक्रम में सुंदरकांड पाठ के साथ खटलापुरा के किनारे मछलियों को चारा देने की भी समुचित व्यवस्था की गई थी। कार्यक्रम में पधारे चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग खुद को सुंदरकांड पाठ की चौपाइयां गाने से न रोक सके। उन्होंने पाठ करते हुए भगवान राम के चरणों में श्रद्धासुमन अर्पित किए। बाद में काफी देर तक तालाब किनारे खड़े होकर मछलियों को चारा खिलाते रहे। कार्यक्रम में पधारे सभी लोगों ने छोटे तालाब के किनारे खड़े होकर मछलियों को चारा खिलाया। साथ ही दादा केसवानी की आत्मिक शांति के लिए प्रार्थना भी की। 

दादा निर्मल कुमार केसवानी सत्संगी स्वभाव के थे और आम लोगों की सहायता के लिए हमेशा तत्पर रहते थे। भोपाल के प्रमुख व्यवसाइयों में से एक दादा केसवानी के बड़े पुत्र दुर्गेश केसवानी भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता हैं और छोटे पुत्र धीरज केसवानी व्यवसायी हैं।

यह भी पढ़ें : त्योहाराें की गाइडलाइन को लेकर हिंदू उत्सव समिति के पदाधिकारियों ने की गृहमंत्री डॉ. मिश्रा से मुलाकात